Hamar Goth

संस्कृति

श्री राम की शिक्षाओं और कहानियों ने छत्तीसगढ़ी संस्कृति को कैसे आकार दिया है?

श्री राम की शिक्षाएं और कहानियां छत्तीसगढ़ी संस्कृति का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। वे छत्तीसगढ़ी लोगों के जीवन और मूल्यों…

राम नामी समाज: राम नाम की महिमा का प्रचार करने वाला समुदाय

राम नामी समाज का इतिहास 15वीं शताब्दी में शुरू होता है। कहा जाता है कि इस संप्रदाय की स्थापना भगवान…

छत्तीसगढ़ का लयबद्ध लोकनृत्य: दादरिया

छत्तीसगढ़ की धरती लोककलाओं का खजाना है, और इनमें से एक अनूठा रत्न है – दादरिया। यह लयबद्ध नृत्य केवल…

पंडवानी: छत्तीसगढ़ की प्राचीन महाकाव्य परंपरा

छत्तीसगढ़ की धरती प्राचीन परंपराओं और लोककलाओं का खजाना है। इनमें से एक अनमोल रत्न है पंडवानी, जो महाभारत की…

छत्तीसगढ़ का गौरव: माता कौशल्या की अमर कथा

छत्तीसगढ़ की धरती न सिर्फ प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है, बल्कि यह धार्मिक महत्व के लिए भी जाना जाता है।…

गेड़ी नृत्य : हरेली त्यौहार को और भी खास बनाता यह लोक नृत्य

गेड़ी नृत्य छत्तीसगढ़ का पुरातन व पारंपरिक लोक नृत्य है। यह हरेली पर्व से जुड़ा हुआ लोक नृत्य है। अंचल…

बस्तर के पावन भूमि के देवी-देवता

बस्तर के आदिवासियों की धार्मिक मान्यताएं उनके अपने पुरातन विश्वासों एवं हिन्दुओं के निकट सम्पर्क से पड़े प्रभाव का मिलाजुला…

छत्तीसगढ़ में पंथी नृत्य एक अनुष्ठान

पंथी नृत्य सतनाम-पंथ का एक आध्यात्मिक और धार्मिक नृत्य होने के साथ-साथ एक अनुष्ठान भी है। सामूहिक अराधना है। यह…

छत्तीसगढ़ की लोक कथा – लोरिक चंदा की कहानी

छत्तीसगढ़ी लोक-साहित्य की विधाओं में लोकगाथाओं का प्रमुख स्थान है, गाथाओं का रचना काल 1100 से 1500 तक माना गया…

छत्तीसगढ़ की गौरवशाली संस्कृति को प्रदर्शित करता ढोकरा कला

भारत एक ऐसा देश है, जहाँ विभिन्न कलाओं व संस्कृतियों का मिश्रण देखने को मिलता है। सभी प्रकार की कलाएँ…