Hamar Goth

मैनपाट: छत्तीसगढ़ का छिपा हुआ खजाना, प्रकृति और रोमांच का अनूठा मिश्रण

मैनपाट: छत्तीसगढ़ का छिपा हुआ खजाना, प्रकृति और रोमांच का अनूठा मिश्रण

सरगुजा जिले की गोद में बसा, मैनपाट एक ऐसा हिल स्टेशन है, जो छत्तीसगढ़ के पर्यटन मानचित्र पर तेजी से अपनी जगह बना रहा है। समुद्र तल से 1,085 मीटर की ऊंचाई पर स्थित, इस हिल स्टेशन को ‘छोटा शिमला’ भी कहा जाता है। अपनी प्राकृतिक सुंदरता, अनोखी घटनाओं, धार्मिक महत्व, सांस्कृतिक अनुभव और रोमांचक गतिविधियों के अनूठे मिश्रण के साथ, मैनपाट हर तरह के यात्री को आकर्षित करता है।

प्राकृतिक सुंदरता का अनुभव:

मैनपाट को प्रकृति की अद्भुत रचनाओं का खजाना कहा जा सकता है। घने जंगलों, लुभावने झरनों, मनोरम घाटियों और पहाड़ियों का मनमोहक दृश्य मैनपाट की सुंदरता को और बढ़ा देता है।

  • जलजली: हरे-भरे जंगल के बीच से निकलता हुआ प्राचीन झरना, जलजली, मैनपाट के प्राकृतिक आकर्षण का एक प्रमुख केंद्र है।
  • सरभंजा जलप्रपात: 30 मीटर की ऊंचाई से गिरता हुआ सरभंजा जलप्रपात, शांत वातावरण और प्राकृतिक सौंदर्य का एक अनूठा अनुभव प्रदान करता है।
  • मछली प्वाइंट: मछली के आकार की घाटी का मनोरम दृश्य देखने के लिए मछली प्वाइंट अवश्य जाएं। यहां से सूर्यास्त का नज़ारा भी अविस्मरणीय होता है।
  • टाइगर पॉइंट: सूर्योदय और सूर्यास्त के अद्भुत दृश्यों के लिए टाइगर पॉइंट एक आदर्श स्थान है। यहां से आसपास के पहाड़ों और घाटियों का मनोरम दृश्य भी देखा जा सकता है।

अनोखी घटनाओं का रहस्य:

मैनपाट केवल प्राकृतिक सौंदर्य के लिए ही नहीं, बल्कि कुछ अनोखी घटनाओं के लिए भी जाना जाता है।

  • उल्टा पानी: मैनपाट का एक अद्भुत आश्चर्य है, ‘उल्टा पानी’ का झरना। यहां पानी ऊपर की ओर बहता हुआ दिखाई देता है, जो आंखों को धोखा देता है।
  • कूदने पर हिलती धरती: एक ऐसा स्थान जहां कूदने से जमीन हिलने लगती है। हालांकि इसका वैज्ञानिक कारण है, फिर भी यह एक रहस्यमयी अनुभव प्रदान करता है।
  • चुंबकीय पहाड़ी: मैनपाट में एक ऐसी जगह है जहां वाहन न्यूट्रल गियर में भी ऊपर की ओर चढ़ने लगते हैं। यह चुंबकीय खिंचाव का प्रभाव है, जो यहां का एक अनूठा आकर्षण है।

धार्मिक महत्व का केंद्र:

मैनपाट अपने धार्मिक महत्व के लिए भी जाना जाता है। यहां विभिन्न धर्मों के मंदिर और मठ स्थित हैं।

  • तिब्बती मठ: 1960 के दशक में तिब्बती शरणार्थियों द्वारा बनाया गया यह मठ शांति और आध्यात्म का प्रतीक है। यहां तिब्बती संस्कृति और परंपरा को करीब से देखा जा सकता है।
  • बागबाहरा मंदिर: भगवान शिव को समर्पित यह प्राचीन मंदिर अपनी वास्तुकला के लिए जाना जाता है। यहां भगवान शिव की विशाल प्रतिमा और मंदिर की संरचना मनमोहक है।
  • जैन और बौद्ध मंदिर: मैनपाट में विभिन्न आकार और आकारों के कई छोटे-बड़े जैन और बौद्ध मंदिर हैं। ये मंदिर मैनपाट के धार्मिक महत्व को दर्शाते हैं।

सांस्कृतिक अनुभव का खजाना:

मैनपाट में पर्यटक स्थानीय जनजातीय संस्कृति का भी अनुभव कर सकते हैं।

  • तिब्बती बाजार: यहां तिब्बती शरणार्थियों द्वारा बनाए गए सुंदर हस्तशिल्प और कपड़े खरीदे जा सकते हैं। यह बाजार तिब्बती संस्कृति की झलक देखने का एक बेहतरीन अवसर प्रदान करता है।
  • स्थानीय जनजातीय नृत्य: यहां के लोग विभिन्न अवसरों पर पारंपरिक नृत्य करते हैं। ये नृत्य रंग-बिरंगे परिधानों और संगीत से सराबोर होते हैं, जो पर्यटकों को मंत्रमुग्ध कर देते हैं।
  • स्थानीय व्यंजन: मैनपाट के स्वादिष्ट व्यंजनों को जरूर ट्राई करें। बारा, पकौड़ा, चना जैसे व्यंजन स्थानीय जनजातीय समुदाय के स्वाद को दर्शाते हैं।

रोमांचक गतिविधियों का आनंद:

प्रकृति प्रेमी और रोमांच के शौकीन लोगों के लिए मैनपाट में कई गतिविधियां उपलब्ध हैं।

  • ट्रेकिंग: मैनपाट में कई ट्रेकिंग रूट हैं, जो प्रकृति के बीच से गुजरते हैं। इन रूटों पर ट्रेकिंग का अनुभव शानदार और यादगार होता है।
  • पक्षी देखना: मैनपाट विभिन्न प्रकार के पक्षियों का घर है। पक्षी देखने के शौकीनों के लिए यह एक आदर्श स्थान है। यहां विभिन्न प्रकार के पक्षियों को देखा जा सकता है, जिनमें से कुछ दुर्लभ भी हैं।
  • कैम्पिंग: मैनपाट के शांत वातावरण में कैम्पिंग का अनुभव लेने का अवसर भी मिलता है। रात में तारों से जगमगाता आकाश देखना एक अविस्मरणीय अनुभव होता है।
  • पैराग्लाइडिंग: रोमांच के शौकीनों के लिए पैराग्लाइडिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। मैनपाट के खूबसूरत परिदृश्य को ऊंचाई से देखने का अनुभव रोमांचक और अविस्मरणीय होता है।

मैनपाट जाने का सबसे अच्छा समय:

मैनपाट घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच का है। इस दौरान यहां सुहावना मौसम रहता है और पर्यटक आराम से घूम-फिर सकते हैं। हालांकि, गर्मियों में भी मैनपाट में घूमने का आनंद लिया जा सकता है, क्योंकि यहां साल भर सुखद मौसम रहता है।

कैसे पहुंचें मैनपाट:

मैनपाट रायपुर से लगभग 250 किलोमीटर दूर है। यहां पहुंचने के लिए रायपुर से बस, ट्रेन, या हवाई जहाज से यात्रा की जा सकती है।

  • बस: रायपुर से मैनपाट के लिए नियमित बस सेवा उपलब्ध है। यात्रा का समय लगभग 8 घंटे है।
  • ट्रेन: रायपुर से जगदलपुर तक ट्रेन से यात्रा कर सकते हैं और फिर वहां से टैक्सी या बस से मैनपाट जा सकते हैं।
  • हवाई जहाज: रायपुर हवाई अड्डे से जगदलपुर हवाई अड्डे तक उड़ान भर सकते हैं और फिर वहां से टैक्सी या बस से मैनपाट जा सकते हैं।

मैनपाट में पर्यटन के लिए सुझाव:

  • मैनपाट जाने के लिए आरामदायक जूते और गर्म कपड़े साथ रखें।
  • मौसम की जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें।
  • पर्यटन स्थलों पर साफ-सफाई का ध्यान रखें।
  • स्थानीय जनजातीय संस्कृति का सम्मान करें।
  • मैनपाट के प्राकृतिक आकर्षणों को संरक्षित करने के लिए जिम्मेदार पर्यटक बनें


मैनपाट एक ऐसा हिल स्टेशन है जो प्राकृतिक सुंदरता, अनोखी घटनाओं, धार्मिक महत्व, सांस्कृतिक अनुभव और रोमांचक गतिविधियों का अनूठा मिश्रण प्रदान करता है। यह एक ऐसा स्थान है जहां हर किसी के लिए कुछ न कुछ खास है। चाहे आप प्रकृति प्रेमी हों, रोमांच के शौकीन हों, धार्मिक यात्रा पर हों, या बस आराम से छुट्टी बिताना चाहते हों, मैनपाट आपके लिए एक आदर्श पर्यटन स्थल है।

तो अगर आप छत्तीसगढ़ की ओर घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो मैनपाट को अपने गंतव्यों में जरूर शामिल करें। यह एक ऐसा स्थान है जो आपको निराश नहीं करेगा और आपके मन में अविस्मरणीय यादें छोड़ेगा।

साथ ही, कुछ अन्य सुझावों को ध्यान में रखें:

  • स्थानीय गाइड की सेवाएं लेना मददगार हो सकता है, खासकर यदि आप पहली बार मैनपाट आ रहे हैं।
  • मैनपाट में ठहरने के लिए विभिन्न विकल्प उपलब्ध हैं, जिनमें होटल, हॉस्टल और कैम्पिंग साइट शामिल हैं। अपने बजट और आवश्यकताओं के अनुसार सर्वोत्तम विकल्प चुनें।
  • मैनपाट में तस्वीरें लेने के लिए कई अवसर मिलेंगे। अपने कैमरे को साथ लाना न भूलें।
  • मैनपाट को छत्तीसगढ़ के छिपे हुए खजाने के रूप में जाना जाता है। इसे और अधिक लोगों तक पहुंचाने में मदद करें ताकि इस खूबसूरत हिल स्टेशन का आनंद और भी अधिक लोग ले सकें।

मैनपाट की यात्रा आपको अपने आप को फिर से जोड़ने और प्रकृति की सुंदरता का आनंद लेने का एक अवसर प्रदान करेगी। तो आज ही अपने मैनपाट के रोमांच की योजना बनाएं!

Advertisement - HG

Related Articles