Hamar Goth

जैव विविधता को समाये रखा छत्तीसगढ़ का कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान

जैव विविधता को समाये रखा छत्तीसगढ़ का कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान

छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले में स्थित कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान भारत के सबसे खूबसूरत और महत्वपूर्ण राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है। यह उद्यान 1982 में स्थापित किया गया था और इसका क्षेत्रफल 200 वर्ग किलोमीटर है।

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान अपनी प्राकृतिक सुंदरता और समृद्ध वन्यजीवों के लिए जाना जाता है। यहां साल, सागौन, टीक और बांस के घने जंगल हैं। इन जंगलों में बाघ, तेंदुआ, हाथी, भालू, चीता, जंगली बिल्ली, सियार, नीलगाय, सांभर, बारहसिंगा, हिरण, और कई प्रकार के पक्षी पाए जाते हैं।

यहां तीन गुफाएं भी हैं, जो अपनी प्राकृतिक सुंदरता और भूगर्भीय महत्व के लिए प्रसिद्ध हैं। इन गुफाओं में कुटुम्बसर गुफा, कैलाश गुफा और दंडक गुफा शामिल हैं।

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान पर्यटकों के लिए एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यहां आने वाले पर्यटक वन्यजीवों को देखने के लिए सफारी, ट्रेकिंग, और कैंपिंग का आनंद ले सकते हैं।

पर्यटन

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में पर्यटकों के लिए कई सुविधाएं उपलब्ध हैं। यहां पर्यटक गेस्ट हाउस, कैंपिंग साइट, और सफारी सेवाएं उपलब्ध हैं। उद्यान में एक वन्यजीव संग्रहालय भी है, जहां पर्यटक विभिन्न प्रकार के जानवरों के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच का है। इस समय मौसम सुहावना रहता है और वन्यजीवों को देखने की संभावना अधिक होती है।

कैसे पहुंचें

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान रायपुर से लगभग 300 किलोमीटर दूर स्थित है। यहां पहुंचने के लिए रायपुर से बस, ट्रेन, या हवाई जहाज से यात्रा की जा सकती है।

रायपुर से कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान जाने के लिए बस और टैक्सी सेवाएं उपलब्ध हैं। ट्रेन से यात्रा करने वालों को रायपुर से जगदलपुर तक ट्रेन लेनी होगी और फिर वहां से टैक्सी या बस से कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान जा सकते हैं। हवाई जहाज से यात्रा करने वालों को रायपुर या जगदलपुर हवाई अड्डे से टैक्सी या बस से कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान जा सकते हैं।

पर्यटन के लिए सुझाव

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में पर्यटकों के लिए कुछ सुझाव इस प्रकार हैं:

  • उद्यान में जाने से पहले मौसम की जानकारी अवश्य प्राप्त कर लें।
  • उद्यान में प्रवेश करने के लिए टिकट खरीदना आवश्यक है।
  • उद्यान में जाने के लिए कैमरा, पानी की बोतल, और धूप से बचाव के लिए टोपी या स्कार्फ साथ ले जाएं।
  • उद्यान में वन्यजीवों को देखने के लिए सफारी या ट्रेकिंग का आनंद लें।
  • उद्यान में वन्यजीवों को परेशान न करें और उनके पास न जाएं।

कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ राज्य का एक खजाना है। यहां प्रकृति की सुंदरता और वन्यजीवों की विविधता को देखने का अवसर मिलता है।

Advertisement - HG

Related Articles